Miss Russia Dance India 1 Su 35S shows a Russian T-14 Armata tank Pak Fa Military vehicles during  Tank Biathlon NN-pic Swifts and Russian Knights aerobatic
रूस में कथक नृत्य कितना लोकप्रिय है?

आइए, आज आपको ’मिस रस्सीया - 2017’ से मिलवाएँ

इस साल रूस की सबसे ख़ूबसूरत लड़की होने का श्रेय मिला है — 21 वर्षीया स्वप्नसुन्दरी और येकतिरिनबूर्ग की मॉडल-गर्ल पलीना पपोवा को, जो पिछले छह साल से यूरोप, अमरीका और एशिया की फ़ैशन की दुनिया में धूम मचाए हुए हैं और जिनकी तस्वीरें अक्सर दुनिया भर की पत्र-पत्रिकाओं में दिखाई देती हैं।
  निकलाय लितोफ़किन

मिस रस्सीया-2017 की उपाधि पाने के लिए रूस के कोने-कोने से आईं 50 लड़कियों में होड़ चल रही थी। 

इस प्रतियोगिता के मानदण्ड इस प्रकार थे :

 — प्रतियोगी की लम्बाई 173 सेण्टीमीटर या उससे ज़्यादा होनी चाहिए।

 — प्रतियोगी की आयु 18 से 23 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

— प्रतियोगी के शरीर पर किसी भी तरह के टैटू या ज़ख़्मों के निशान नहीं होने चाहिए।

— प्रतियोगी को धूम्रपान सहित किसी भी तरह की बुरी आदतें नहीं होनी चाहिए।

— प्रतियोगी की अन्तरंग तस्वीरें या विडियो इण्टरनेट पर उपलब्ध नहीं होने चाहिए।

— प्रतियोगी को कुँवारा होना चाहिए। विवाहित और बच्चों वाली महिलाएँ प्रतियोगिता में भाग नहीं ले सकेंगी।

प्रतियोगिता में विजय प्राप्त करने वाली प्रतियोगी को श्वेत स्वर्ण का एक ताज, दस लाख डॉलर, क़रीब 35 लाख रुपए और एक कार इनाम में दी जाएगी। प्रतियोगिता में दूसरे और तीसरे स्थान पर आने वाले प्रतियोगियों को दुनिया के किसी भी विश्वविद्यालय में निशुल्क पढ़ाई करने के लिए छात्रवृत्ति दी जाएगी।

और प्रतियोगिता के परिणाम घोषित हुए तो मालूम हुआ कि रूस के उराल प्रदेश की 21 वर्षीया पलीना पपोवा ने प्रतियोगिता जीत ली है। 

पलीना पपोवा अपने गृह-नगर येकतिरिनबूर्ग में ही रहती हैं, जो मस्क्वा (मास्को) के पूर्व में 1800 किलोमीटर दूर बसा हुआ है। चूँकि वे शहर की एक मॉडलिंग एजेंसी में काम करती हैं, इसलिए अपने काम की वजह से पिछले छह सालों में वे दुनिया-भर की यात्राएँ कर चुकी हैं।

कभी उनकी इच्छा चीन के किसी विश्वविद्यालय में पढ़ने की थी, लेकिन बाद में उन्होंने रूस में ही पढ़ाई करना ठीक समझा। लेकिन अभी उनकी उम्र ही क्या है? भविष्य में वे कौनसा काम करेंगी, यह उन्होंने अभी तक तय नहीं किया है। वे आगे किस शहर में अपनी पढ़ाई जारी रखेंगी और कहाँ पर रहेंगी, यह भी अभी तक अनिश्चित है। सबसे पहले तो वे अपनी कमाई से अपने लिए एक घर ख़रीदना चाहती हैं।

पलीना का कहना है कि प्रतियोगिता में उन्हें जो 35 लाख रुपए मिले हैं और माडलिंग करके वे जो कुछ भी कमाती हैं, उससे वे अपने लिए एक फ़्लैट ख़रीदना चाहती हैं।

’मिस रस्सीया’ प्रतियोगिता में चुने जाने के बाद अब वे ’मिस यूनिवर्स’ और ’मिस वर्ल्ड’ प्रतियोगिता में रूस का प्रतिनिधित्व करेंगी।

उल्लेखनीय बात तो यह है कि पिछले तीन सालों से ’मिस रस्सीया’ प्रतियोगिता में उराल प्रदेश की लड़कियाँ ही विजयी हो रही हैं। पलीना पपोवा को इस वर्ष पिछले साल की विजेता त्यूमिन नगर की याना दब्रवोल्स्कया ने ’मिस रस्सीया’ का ताज पहनाया। उससे पहले साल भी येकतिरिनबूर्ग की प्रतिनिधि सफ़ीया निकित्चूक ने ’मिस रस्सीया’ की उपाधि पर कब्ज़ा किया था।

18 अप्रैल 2017

और पढ़ें

+
फ़ेसबुक पर पसंद करें