फ़रवरी में रूस और भारत पाँचवी पीढ़ी के लड़ाकू विमान पर चर्चा करेंगे

आगामी फ़रवरी में रूस के उपप्रधानमन्त्री दिमित्री रगोज़िन फिर से भारत की यात्रा करेंगे। उनकी इस यात्रा के दौरान दो देशों के बीच सैन्य-तकनीकी सहयोग के बारे में विस्तार से बातचीत होगी। दिमित्री रगोज़िन भारत के प्रधान मन्त्री नरेन्द्र मोदी से विशेष तौर पर मुलाक़ात करके पाँचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान के बारे में बातचीत करेंगे।

दिमित्री रगोज़िन ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच पहले ही यह सहमति हो गई थी कि ’वाइब्रेण्ट गुजरात’ आर्थिक सम्मेलन में सैन्य-तकनीकी सहयोग से जुड़े मुद्दों पर विचार नहीं किया जाएगा। ’वाइब्रेण्ट गुजरात - 2017’ नामक के इस आर्थिक सम्मेलन में रूस का बड़ा प्रतिनिधिमण्डल भाग ले रहा है, जिसका नेतृत्व रूस के उपप्रधानमन्त्री दिमित्री रगोज़िन कर रहे हैं।

पाँचवी पीढ़ी के लड़ाकू विमान का निर्माण रूस की ‘सुखोई’ कम्पनी तथा भारतीय कम्पनी ’हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड’ मिलकर कर रही हैं। जल्दी ही रूस और भारत पाँचवी पीढ़ी के लड़ाकू विमान के डिज़ाइन के बारे में अन्तिम समझौता कर लेंगे।

+
फ़ेसबुक पर पसंद करें