रूस में विदेशी छात्रों की संख्या एक तिहाई बढ़ जाएगी

रूस के विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षा संस्थानों में अब पहले के मुकाबले 50 हज़ार विदेशी छात्र ज़्यादा पढ़ सकेंगे। विदेशी छात्रों के लिए वीज़ा प्रक्रिया को भी आसान बना दिया जाएगा।
Foreign students
स्रोत :Press Photo

रूस की शिक्षा व विज्ञान उपमन्त्री ल्यूद्मिला अगरोदवा ने 25 जनवरी को पत्रकारों को बताया कि रूसी विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों की संख्या बढाई जाएगी।

ल्यूद्मिला अगरोदवा ने कहा — हमने यह तय किया है कि रूस के विश्वविद्यालयों में शिक्षा प्राप्त करने वाले विदेशी छात्रों के कोटे में  30 प्रतिशत की वृद्धि की जाए यानी लगभग और 50 हज़ार विदेशी छात्र  अब रूस के विश्वविद्यालयों में प्रवेश पा सकेंगे। उल्लेखनीय है कि अब तक रूस में एक लाख 50 हज़ार विदेशी छात्र पढ़ सकते थे।

ल्यूद्मिला अगरोदवा ने कहा कि रूसी विश्वविद्यालय इतने बड़ी संख्या में विदेशी छात्रों को दाखिला देने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। बीते कुछ वर्षों में रूस की सरकार ने शिक्षा और विज्ञान के क्षेत्र में बड़ा निवेश किया है। आजकल रूस के अधिकांश विश्वविद्यालयों में विदेशी छात्रों को अंग्रेज़ी भाषा में शिक्षा दी जाती है।

रूस की शिक्षा व विज्ञान उपमन्त्री का कहना है कि रूस आने वाले विदेशी छात्रों के बीच चिकित्सा, इंजीनियर तकनीक, औषधि विज्ञान और सूचना प्रौद्योगिकी जैसे विषय अधिक लोकप्रिय हैं।

इसके अलावा विदेशी छात्रों के लिए रूस में उनकी शिक्षा की पूरी अवधि के दौरान वीज़ा प्रक्रिया को भी आसान बना दिया जाएगा। सरकार यह कानून बनाने जा रही है कि रूसी विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेने वाले विदेशियों को एक साथ ही उनके पूरे शिक्षाकाल के लिए वीज़ा दे दिया जाएगा। 

+
फ़ेसबुक पर पसंद करें