भारत ने उपग्रहों के प्रक्षेपण में रूस का रिकार्ड तोड़ा

भारत ने एक साथ 104 उपग्रह अन्तरिक्ष में छोड़कर विश्व रिकार्ड बनाया। इससे पहले यह रिकार्ड रूस के नाम था।
ISRO
पीएसएलवी-सी37 राकेट। स्रोत :twitter.com/isro

आज भारत ने पीएसएलवी-सी37 राकेट के जरिए 104 उपग्रह अन्तरिक्ष में भेजे। भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन यानी इसरो ने यह जानकारी दी है।

यह प्रक्षेपण भारतीय समय के अनुसार सुबह 9 बजे श्रीहरिकोटा स्थित अन्तरिक्ष केन्द्र से  किया गया। प्रक्षेपण के 17 मिनट बाद सभी 104 उपग्रहों को पृथ्वी की परिधि पर स्थापित कर दिया गया। इस अभियान को पूरा करने में 30 मिनट लगे। इन 104 उपग्रहों में से एक उपग्रह 714 किलोग्राम का है, जो पृथ्वी पर निगरानी रखेगा और उसका पर्यवेक्षण करेगा। बाक़ी सभी 103 उपग्रहों का वज़न कुल मिलाकर 664 किलोग्राम है।

इसरो के इस अभियान से उपग्रह प्रक्षेपण का विश्व रिकॉर्ड भी बन गया है। दुनिया में पहली बार ऐसा हुआ है, जब एक साथ 104 उपग्रह अन्तरिक्ष में प्रक्षेपित किए गए हैं। इससे पहले अब तक किसी एक अभियान में सबसे ज़्यादा उपग्रह भेजने का विश्व रिकॉर्ड रूस के नाम था, जिसने 2014 में एक साथ 37 उपग्रह प्रक्षेपित किए थे। इससे भी पहले अमरीका ने एक साथ 30 उपग्रह अन्तरिक्ष में भेजे थे। भारत ने भी इससे पहले जून 2015 में 23 उपग्रहों का एक साथ प्रक्षेपण किया था।

प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने इस सफल अभियान पर भारत के वैज्ञानिकों को बधाई दी है। अब भारत अन्तरिक्ष अनुसन्धान के क्षेत्र में दुनिया का एक प्रमुख देश बनता जा रहा है।

+
फ़ेसबुक पर पसंद करें