भारत रूस के प्रौद्योगिकी विकास सम्मेलन ’तेख्नोप्रोम-2017’ में भाग लेगा

रूस के नवसिबीर्स्क नगर में आगामी 20 से 22 जून तक पाँचवाँ अन्तरराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी विकास सम्मेलन ’तेख्नोप्रोम-2017’ आयोजित किया जाएगा।
Technoporm
स्रोत :Kirill Kukhmar/TASS

रूस के नवसिबीर्स्क प्रदेश के राज्यपाल व्लदीमिर गरादेत्सकी ने रूसी समाचार समिति रिया नोवोस्ती को बताया कि भारत ने औपचारिक रूप से इस बात की पुष्टि कर दी है कि वह सहयोगी देश के रूप में रूस के प्रौद्योगिकी विकास सम्मेलन ’तेख्नोप्रोम-2017’ में भाग लेगा।

रूस के नवसिबीर्स्क नगर में आगामी 20 से 22 जून तक पाँचवाँ अन्तरराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी विकास सम्मेलन ’तेख्नोप्रोम-2017’ आयोजित किया जाएगा। यह सम्मेलन आयात करने की जगह रूस में अपने स्वदेशी मालों का उत्पादन करने की नीति को समर्पित होगा। ’तेख्नोप्रोम’ की आयोजन-समिति का नेतृत्व हमेशा की तरह रूस के उप-प्रधानमन्त्री दिमित्री रगोज़िन करेंगे।

गरादेत्सकी ने कहा कि ’तेख्नोप्रोम’ सम्मेलन के दौरान विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में रूसी भारतीय सहयोग परिषद की बैठक होगी। विगत जनवरी में दिमित्री रगोज़िन की भारत यात्रा के दौरान इस परिषद के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई थी।

अन्तरराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी विकास सम्मेलन ’तेख्नोप्रोम-2017’ में दो मुख्य विषयों पर चर्चा की जाएगी। इनमें पहला विषय है – सैन्य-उद्योग की सहायता से असैनिक प्रयोग के लिए उच्च प्रौद्योगिकी का उत्पादन। और दूसरा विषय है – रूस की नई आर्थिक नीति का कार्यान्वन।

+
फ़ेसबुक पर पसंद करें