नया विकास बैंक और ब्रिक्स व्यावसायिक परिषद आपस में सहयोग करेंगे

ब्रिक्स व्यावसायिक परिषद के सदस्य नए विकास बैंक को उन विशेष परियोजनाओं के बारे में बताएँगे, जिनमें नया विकास बैंक वित्तीय निवेश कर सकता है और जिन्हें वह अपना सहयोग व सहायता दे सकता है। नया विकास बैंक भारत के मध्य प्रदेश राज्य की सड़क निर्माण परियोजनाओं और रूस के करेलिया प्रदेश में पन बिजलीघरों के निर्माण में वित्तीय मदद देने पर सहमत हो गया है।
Mumbai roads
स्रोत :Zuma/Global Look Press

ब्रिक्स संगठन की प्रमुख संस्थाओं में से एक नया विकास बैंक ब्रिक्स की व्यावसायिक परिषद के साथ मिलकर काम करेगा। विगत 31 मार्च से 2 अप्रैल तक नई दिल्ली में हुई अपनी दूसरी वार्षिक बैठक के बाद बैंक के वरिष्ठ अधिकारियों ने नई दिल्ली में ब्रिक्स व्यावसायिक परिषद के सदस्यों से भेंट की। 

इस सहयोग को औपचारिक रूप देने के लिए एक आधिकारिक समझौता भी किया जा रहा है। 

’रूस रेलवे’ कम्पनी के प्रथम उपाध्यक्ष अलेक्सान्दर मिशारिन ने रूस-भारत संवाद से बात करते हुए बताया —   बैंक और परिषद के बीच होने वाला समझौता पूरी तरह से व्यावहारिक होना चाहिए, इसलिए हम इस समझौते को तैयार करने के लिए की जाने वाले कार्रवाई में भाग लेने के लिए तैयार हैं। हम उन विशेष परियोजनाओं की सूची भी तैयार करना चाहते हैं, जिनमें बैंक को विशेष दिलचस्पी दिखानी चाहिए। जैसे मस्क्वा (मास्को) और कज़ान शहरों के बीच तीव्रगति रेललाइन का निर्माण एक ऐसी ही परियोजना हो सकती है, जिसे बाद में मस्क्वा-पेइचिंग रेलमार्ग का एक हिस्सा बनाया जा सकता है। 

रूसी वाणिज्य और उद्योग चैम्बर के उपाध्यक्ष व्लदीमिर दिमित्रीइफ़ ने कहा — ब्रिक्स के देशों की उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं के समूह के लिए ब्रिक्स साख सूची एजेंसी की स्थापना करना भी एक और महत्वपूर्ण लक्ष्य है, जिसे हमें जल्दी से जल्दी पूरा करना चाहिए।  उन्होंने कहा कि ब्रिक्स के सदस्य देशों में से कोई भी इस बात पर ख़ुश दिखाई नहीं देता है कि उनके विकास की संभावनाओं का मूल्यांकन अन्य देशों में किया जा रहा है। 

एक नए वैश्विक वित्तीय ढाँचे की स्थापना करने की, गोवा में पिछले साल हुए ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में ब्रिक्स के नेताओं द्वारा की गई पहल को दुनिया में बड़ा महत्व दिया गया है। ब्रिक्स के सदस्य देश एक स्थिर और आपसी लेन-देन के लिए इस्तेमाल की जाने वाली ऐसी सम्भावित मुद्रा तय करने के लिए उत्सुक हैं, जिसका इस्तेमाल वे उस दशा में कर सकें, जब उन्हें अन्तरराष्ट्रीय मुद्रा कोष जैसी अमरीकी प्रभाव-बहुल संस्थाओं से सहायता की ज़रूरत हो।

ब्रिक्स देशों में नए विकास बैंक की बढ़ती हुई भूमिका 

नया विकास बैंक बुनियादी ढाँचे, हरित अर्थव्यवस्था, जल आपूर्ति और स्मार्ट शहरों जैसी उन विकास परियोजनाओं में निवेश का समर्थन करेगा, जो वास्तव में ज़रूरी होंगी।

विगत 1 अप्रैल को भारत के वित्तमन्त्री अरुण जेटली ने बताया कि नए विकास बैंक ने एक भारतीय परियोजना में वित्तीय निवेश करने की मंजूरी दे दी है। यह बैंक द्वारा दिया गया पहला ऋण है। नया विकास बैंक मध्य प्रदेश में प्रमुख सड़कों के निर्माण के लिए वित्त उपलब्ध कराएगा। 

जेटली ने कहा — इसके साथ ही नए विकास बैंक का पहला चरण भारत में पड़ गया है। नई दिल्ली में नए विकास बैंक की वार्षिक बैठक के उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर भाषण देते हुए उन्होंने कहा — हमने नए विकास बैंक के सामने क़रीब 2 अरब डॉलर की लागत वाली विभिन्न परियोजनाएँ पेश की हैं। मुझे आशा है कि नए बैंक के अधिकारी जल्दी ही हमारे अनुरोधों पर विचार करेंगे।

अभी तक नए विकास बैंक ने यूरेशियाई विकास बैंक के साथ मिलकर रूस की जिस एकमात्र परियोजना में वित्तीय निवेश करने की स्वीकृति दी है, वह परियोजना करेलिया प्रदेश के बेलापरोझ्स्कया इलाके में दो छोटे-छोटे पनबिजलीघर बनाने से जुड़ी हुई है।

यह परियोजना कुल साढ़े 12 अरब रुपए की हैं। रूसी कम्पनी ’सेवगिद्रोस्त्रोय’ इस परियोजना पर काम कर रही है और यह परियोजना 2019 के आख़िर तक पूरी हो जाएगी। नया विकास बैंक इस परियोजना को पूरा करने के लिए दो ऋण देने पर सहमत हो गया है, जो पाँच-पाँच करोड़ डॉलर के होंगे। 

’रूस रेलवे’ कम्पनी भी मस्क्वा से कज़ान तक तीव्रगति रेल चलाने के लिए रेललाइन बिछाने के लिए 1 अरब डॉलर का ऋण चाहती है और वह इस सिलसिले में नए विकास बैंक के अधिकारियों से बातचीत कर रही है। 

नए विकास बैंक ने एशियाई बुनियादी ढाँचागत निवेश बैंक, यूरोपीय पुनर्निर्माण और विकास बैंक, यूरोपीय निवेश बैंक, अन्तरराष्ट्रीय निवेश बैंक और यूरेशियाई विकास बैंक के साथ सहयोग सम्बन्धी सहमति समझौते किए हैं। 

नई दिल्ली में हुई अपनी दूसरी वार्षिक बैठक के दौरान, नए विकास बैंक के अधिकारी 2017 से 2021 तक के लिए एक नई विकास रणनीति बनाने पर सहमत हो गए हैं। बैंक में नए सदस्यों के प्रवेश के लिए भी एक प्रक्रिया तैयार की जाएगी। सभी नए परिवर्तनों के साथ नए विकास बैंक के आधिकारिक दस्तावेज़ जुलाई 2017 तक प्रकाशित कर दिए जाएँगे।

+
फ़ेसबुक पर पसंद करें